Aphorisms of Chanakya Sutra 351 to 450 (Only English and Hindi Translation)

Aphorism 351

A progressive person due to lack of anger fortifies his intellect with his serious thinking.

एक प्रगतीशील व्यक्ति क्रोध के आभाव के कारण अपनी बुद्धि को स्थिर करता है और गंभीर चिंतन करता है.

Aphorism 352

You should not create conflicts with those who are intelligent, foolish, friends, preceptor and for whom your master uses kind words.

आप ऐसे लोगो से विवाद न करे जो बुद्धिमान है, मुर्ख है, मित्र है, गुरु है और जिनके लिए आपका स्वामी अच्छे वचनों का प्रयोग करता है.

Aphorism 353

There can’t be any prosperity without appropriating money belonging to others.

दुसरो की दौलत लिए बिना सम्पन्नता नहीं आती.

Aphorism 354

Those who chase money don’t like taking any efforts for good things.

जो पैसे के पीछे ही भागते रहते है वो कोई अच्छा काम करने का प्रयत्न नहीं करते.

Aphorism 355

Those who depend on a vehicle lose their own speed.

जिन्हें गति के लिए वाहन चाहिए वे अपनी गति खो देते है.

Aphorism 356

A wife is a shackle that ties a man.

पत्नी वह बंधन है जो आदमी को बांधता है.

Aphorism 357

One should be deployed in that work which he knows well.

आदमी को वह काम सौपना चाहिए जो वह करने में माहिर है.

Aphorism 358

A harsh wife creates agony.

एक कठोर पत्नी वेदना देती है.

Aphorism 359

One should observe how his wife behaves.

आदमी को उसकी पत्नी का व्यवहार देखना चाहिए.

Aphorism 360

One should not trust a woman.

आदमी को एक औरत पर विश्वास नहीं करना चाहिए.

Aphorism 361

A woman doesn’t know the ways the world works and she lacks any stability of mind.

एक औरत को दुनियादारी की समझ नहीं होती है और उसके मन में कोई स्थिरता भी नहीं होती है.

Aphorism 362

When all our teachers are ranked Mother occupies the first rank.

जब हम हमारे गुरुओ का क्रम लगाते है तो माँ का क्रमांक सबसे उपार होता है.

Aphorism 363

A son should always see that he meets all needs of his mother.

एक लड़के ने यह देखना चाहिए की उसके माँ की सभी जरूरते वह पूरी करे.

Aphorism 364

A man’s intelligence gets covered by his dressing.

आदमी का पोशाख उसकी बुद्धि को ढक देता है.

Aphorism 365

A restricted appearance is the embellishment for a woman.

मर्यादा स्त्री का अलंकार है.

Aphorism 366

The knowledge of Vedas is a true embellishment for brahmins.

वेदों का ज्ञान ब्राह्मण का अलंकार है.

Aphorism 367

Truthfulness is the embellishment of all human-beings.

सत्यशीलता मानव का अलंकार है.

Aphorism 368

Wisdom paired with humility is the best of all embellishments.

विद्या जो विनय के साथ जुडी हुई है यह एक सर्वोत्तम अलंकार है.

Aphorism 369

One should live in a region that has no turbulence.

व्यक्ति उस जगह रहे जहा कोई उत्पात नहीं.

Aphorism 370

A region is fit for living where there is a majority of truthful good people.

वह भाग जीने के लिए अच्छा है जहा सज्जनों की बहुसंख्या है.

Aphorism 371

One should not invite King’s wrath.

व्यक्ति को राजा के क्रोध का पात्र नहीं बनना चाहिए.

Aphorism 372

There is no God greater than King.

राजा से बढ़कर कोई देव नहीं.

Aphorism 373

The wrath of King is capable of burning those who revolt against him by reaching all corners of the State.

राजा की क्रोधाग्नि द्रोह करने वालो को राज्य के किसी भी कोने में पहुचकर दहन करने में सक्षम है.

Aphorism 374

One should never go to a King with empty hands.

व्यक्ति को राजा के पास खाली हाथ नहीं जाना चाहिए.

Aphorism 375

Similarly we should not go with empty hands to the preceptor and the one who is held in high esteem.

अपने गुरु के पास खाली हाथ नहीं जाना चाहिए.

Aphorism 376

We should not become a subject of revile for those close to the royal family.

जो लोग राज परिवार के निकट है उन्हें हमारा द्वेषी नहीं बनाना चाहिए.

Aphorism 377

One should go often to the court of King.

राज सभा में हरदम जाते रहना चाहिए.

Aphorism 378

One should be friendly to the ministers and friends of King.

राजा के मंत्रियो और मित्रो के साथ मित्रता बनाये रखना चाहिए.

Aphorism 379

One should not make personal relations with the women working for the King.

राजा के यहाँ काम करने वाली औरतो से वैयक्तिक सम्बन्ध नहीं बनाना चाहिए.

Aphorism 380

One should not see the King in his eyes.

राजा को आंख में आँख डालकर नहीं देखना चाहिए.

Aphorism 381

A father feels great happiness when he has a son with virtue and good conduct.

पिता को परम सुख मिलता है यदि उसका पुत्र सद्गुणी और सदाचारी होता है.

Aphorism 382

Sons should be good at excelling all faculties of wisdom.

बुद्धि के हर क्षेत्र में लडको ने अपना विकास करना चाहिए.

Aphorism 383

One should leave a village that turns hostile to the State.

उस गाव को छोड़ देना चाहिए जो राज्य के विरुद्ध व्यवहार करता है.

Aphorism 384

One should leave a family and support his village if any such contradiction arises.

उस परिवार को छोड़ देना चाहिए जो गाव के विरुद्ध व्यवहार करता है.

Aphorism 385

The birth of a son is the highest benefit.

पुत्र का जन्म सर्वश्रेष्ठ लाभ है.

Aphorism 386

A son protects his parents from calamities.

पुत्र माँ बाप को दुविधा में सहारा देता है.

Aphorism 387

A good child by the dint of his wisdom, charity, status, honours and righteousness glorifies his family.

एक अच्छा पुत्र अपने सदाचार, बुद्धिमत्ता, सम्मान और धर्म के आधार पर घर की गरिमा बढ़ता है.

Aphorism 388

He who doesn’t have a good son has no happiness.

जिस व्यक्ति को सतपुत्र नहीं है उसे कोई सुख नहीं है.

Aphorism 389

A mother that gives birth to good children is a great wife.

जो स्त्री अच्छे पुत्रो को जन्म देती है एक अच्छी पत्नी है.

Aphorism 390

teerthsamwaaye putrwateemnugchchhtet

Aphorism 391

Boys and girls should not mix with each other while learning.

विद्यार्थी और विद्यार्थिनीयो को एक साथ मिलकर शिक्षा नहीं लेनी चाहिए.

Aphorism 392
Aphorism 393

A wife is not an object of sensual pleasure. She is the nourisher of family and sustains infinite existence of family by giving birth to children.

पत्नी इन्द्रिय सुख का साधन नहीं है. वह परिवार को अपने प्रेम से सींचती है और पुत्रो को जन्म देकर परिवार को अनंत समय तक बनाये रखती है.

Aphorism 394

One should not see a woman working at his house with a malicious intention. One gets to a very low level by doing so.

अपने घर काम करने वाली स्त्री को बुरी निगाह से ना देखे. आदमी ऐसा करने से अत्यंत निम्न स्तर पर जाता है.

Aphorism 395

A man who is all set for his doom disregards good advice offered by his well wishers.

व्यक्ति जब विनाश को प्राप्त होने को होता है तो अपने हितैषियो की अच्छी सलाह नहीं सुनता है.

Aphorism 396

One need not worry about his physical comforts.

अपने सुख सुविधाओ की अधिक चिंता मत करो.

Aphorism 397

As children chase their mother, happiness and sorrows follow the action that a man takes.

जिस प्रकार बच्चे माँ के पीछे पीछे होते है, सुख दुःख कर्म के पीछे चलते है.

Aphorism 398

Good people always remember any small favour done to them always as if they were done a great favour.

सज्जन उनके प्रति किये हुए एक छोटे उपकार को भी एक बहोत बड़ा उपकार समझकर हरदम याद रखते है.

Aphorism 399

A person who lacks all gratitude and eligibility should not be done any favour.

वह व्यक्ति जिसमे कोई योग्यता और कृतज्ञता नहीं उसपर कोई उपकार ना किया जाए.

Aphorism 400

A person with malicious heart who has no gratitude just to release himself from the burden of gratitude turns hostile.

जो कमीना आदमी होता है कृतज्ञता के बोझ से छुटकारा पाने के लिए शत्रुता कर लेता है.

Aphorism 401

A good person never sits quiet unless he pays back the favour received.

एक सज्जन तब तक शांत नहीं बैठता जबतक लिया हुआ अहसान चूका ना दे.

Aphorism 402

One should never offend marks of divinity in any form.

हमें परमात्मा के किसी भी चिन्ह का अपमान नहीं करना चाहिए.

Aphorism 403

The greatest light is one’s eye-sight.

नेत्र ज्योति ही सर्वोत्तम प्रकाश है.

Aphorism 404

The vision of knowledge enables one to shun the wrong path.

ज्ञान दृष्टि ही गलत मार्ग पर चलने से रोकती है.

Aphorism 405

The jounrney of life becomes very difficult if the eye-sight is lost.

यदि दृष्टी खो जाती है तो जीवन का सफ़र मुश्किल हो जाता है.

Aphorism 406

One should never urinate in any water.

पानी में मूत्र नहीं करना चाहिए.

Aphorism 407

One should never dive into water fully naked.

पानी में नग्न नहीं जाना चाहिए.

Aphorism 408

One has a knowledge like one’s appearance.

वेशभूषा से ज्ञान का अनुमान होता है.

Aphorism 409

One has wealth like one’s knowledge.

ज्ञान के अनुपात में संपत्ति होती है.

Aphorism 410

Don’t use fire to fight fire. Don’t become angry with someone who is angry with you.

आग आग से नहीं बुझती है. यदि कोई आप पर गुस्सा होता है तो आप उसपर गुस्सा मत होइए.

Aphorism 411

Those who practice austerities are honoured by all.

जो तप करते है हर जगह सम्मान पाते है.

Aphorism 412

One should never think about having a relationship with a lady who belong’s to someone else.

पर स्त्री से सम्बन्ध का विचार भी ना करे.

Aphorism 413

If one donates food that can wash sins one has commited.

अन्न दान पापो से मुक्त कराता है.

Aphorism 414

Vedas provide excellent framework for righteousness.

वेद धर्म की उत्तम व्याख्या करते है.

Aphorism 415

A man should do some righteousness some how.

आदमी को कैसे भी कुछ तो सदाचार करना चाहिए.

Aphorism 416

Truthfulness grants one the status of uninterrupted bliss.

सत्य आदमी को निश्छल सुख प्रदान करता है.

Aphorism 417

No austerity in the world is greater than truthfulness.

सत्य से बड़ा कोई तप नहीं है.

Aphorism 418

Truthfulness is the means and Truthfulness is the end.

सत्य ही माध्यम है, सत्य ही लक्ष्य है.

Aphorism 419

The harmony among people rests on truthfulness.

लोगो का सुसंवाद सत्य पर निर्भर है.

Aphorism 420

Many celestial favours are showered on the one who abides by truthfulness.

उस पर देव लोक के अनेक आशीर्वाद बरसते है जो सत्य पर कायम रहता है.

Aphorism 421

There is no sin greater than a false action.

झूठ से बड़ा पाप कोई नहीं.

Aphorism 422

We should not try to identify the defects in what our teachers say.

हमें हमारे गुरुजनों के वचनों में छिद्र नहीं ढूंढने चाहिए.

Aphorism 423

One should shun evil in all forms.

सभी प्रकार की बुराइयों से बचे.

Aphorism 424

None is friendly to a cunning man.

एक धूर्त का कोई मित्र नहीं होता.

Aphorism 425

A poor is always concerned about his life.

एक निर्धन को अपनी ही पड़ी रहती है.

Aphorism 426

A person who shows bravery in giving charities is really brave.

जो दान देने में साहस दिखाता है वह सचमुच साहसी है.

Aphorism 427

Devotion to teachers and brahmanas is the embellishment of man.

गुरुजनों और ब्राह्मणों के प्रति भक्ति भाव ही अलंकार है.

Aphorism 428

Humility is the embellishment of a man.

विनय अलंकार है.

Aphorism 429

A person who takes pride in his being a member of a great family and devoid of any great values is definitely inferior to a truthful person born in a low class family

पहला व्यक्ति एक बड़े घर में पैदा हुआ है और कुछ भी महान गुण नहीं रखता है, दूसरा व्यक्ति मामूली घर में पैदा हुआ है लेकिन सत्यशील है. पहले से दूसरा बेहतर है.

Aphorism 430

Good conduct causes rise in lifespan and glory.

सदाचरण से आयु और तेज में वृद्धि होती है.

Aphorism 431

One should not speak pleasing words to someone which will actually harm him.

ऐसे मीठे वचन ना कहे जो हानिकारक है.

Aphorism 432

Don’t follow someone against the good of majority of people.

जो बहुमत के विरुद्ध है उसका अनुकरण ना करे.

Aphorism 433

A person should not do any work in association with people who are base, cruel and bad.

उनके सहयोग से कोई काम ना करो जो नीच, क्रूर और बुरे है.

Aphorism 434

Don’t associate yourself with base people even though they have good fortune.

संपन्न नीच लोगो से भी मेलजोल ना रखे.

Aphorism 435

Always ensure that you reduce a loan, an enemy and a disease to zero.

यह निश्चित करे की आप ऋण को, शत्रु को और रोग को पूर्ण रूपसे ख़त्म कर दे.

Aphorism 436

He who has wealth leads a long and healthy life.

जो संपन्न होता है वह लम्बा और स्वस्थ जीवन जीता है.

Aphorism 437

Don’t offend someone who seeks something from you.

उसका अपमान ना करो जो तुमसे कुछ मांगने आया है.

Aphorism 438

A base person will ask you to do something tough. He will offend you irrespective of whether the work fails, partially or fully succeeds.

जो नीच व्यक्ति है वह आपको बहोत मुश्किल काम करने कहेगा. वह आपका अपमान करेगा चाहे आप काम करने में विफल हो, कुछ सफल हो या पूर्ण सफल हो.

Aphorism 439

A person who doesn’t show any gratitude for the favours received can’t save himself from the torments of hell.

जो व्यक्ति प्राप्त अहसान के लिए कृतज्ञता नहीं रखता वह अपने आप को नरक यातना से नहीं बचा सकता.

Aphorism 440

A person’s growth and doom depends on the sweet words and harsh words he speaks.

विकास या बर्बादी व्यक्ति जो मीठे और कडवे वचन बोलता है उसपर निर्भर करती है.

Aphorism 441

One may make his tongue of poison or nectar whatever he likes.

अपनी जिह्वा को हम अमृत से या विष से भर सकते है.

Aphorism 442

He who always do good to others don’t have any enemies.

जो सबका भला करता है उसे कोई शत्रु नहीं होता.

Aphorism 443

If you say something to Gods in praise they get pleased. Do you think that you can’t please human-beings by speaking sweet words.

आप देवो से भी उनकी स्तुति करते है तो वे प्रसन्न होते है, तो क्या इंसान प्रसन्न नहीं होंगे यदि आप उनकी स्तुति करते हो.

Aphorism 444A word spoken with an intention of causing agony to others makes it’s marks on the mind of the listener for a long time.

जिस शब्द से दुसरे का अपमान होता है वह शब्द उसपर गहरा घाव करता है.

Aphorism 445

One should not say unpleasing words to King or his representative.

एक राजा या उसके प्रतिनिधि से कडवे वचन ना कहे.

Aphorism 446

A cuckoo pleases a human-being. One should speak sweet words based on truth to the King and keep him in good humour.

कोकिला मनुष्यों को प्रसन्न करती है. राजा से मीठी वाणी में बात करे और उसे प्रसन्न रखे.

Aphorism 447

An effort for a bad action creates agony.

एक बुरे कर्म के लिए यत्न वेदना को जन्म देता है.

Aphorism 448

There is no place of honour in the society either to the one who seeks favour or to the one who is a wealthy miser.

याचक या कंजूस दौलतमंद को समाज में कोई इज्जत नहीं होती.

Aphorism 449

A woman is embellished by the great fortune she creates by her commitment and loyalty to her family.

घर के प्रति उसकी निष्ठां से स्त्री खुद को सौभाग्यवती बनती है.

Aphorism 450

One should not destroy means of livelihood even of an enemy.

शत्रु की भी उपजीविका का नाश ना करे.

Advertisements

One response to “Aphorisms of Chanakya Sutra 351 to 450 (Only English and Hindi Translation)

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s